30 के बाद महिलाओं को स्वस्थ रहने के लिए महत्वपूर्ण टिप्स !

0
322
Essential diet for women after 30

जैसे-जैसे महिलाओं की उम्र 25 वर्ष से ऊपर की तरफ बढ़ती है उनके शरीर में कई बदलाव आ जाते हैं और उन्हें अपने स्वास्थ पर विशेष ध्यान देने की जरुरत होती है ! यदि आपकी भी उम्र 30 के करीब है तो यहाँ दिए, 30 के बाद की महिलाओं को स्वस्थ रहने के लिए महत्वपूर्ण टिप्स पर आपको विशेष ध्यान देना चाहिए साथ ही इस संकलन में दिए आहार पर भी आपको ध्यान देना चाहिए ! दरअसल हमारे देश में आज भी खुद का ख्याल रखने के लिए अधिकतर महिलाएं वक्त नहीं निकाल पाती हैं, खासकर यदि वो गांव में रहती हैं तो और ज्यादा। शुरुआती दौर में तो इसका ज्यादा प्रभाव उनके स्वास्थ्य पर नहीं होता है, लेकिन 30 – 35 की आयु तक पहुंचते ही शरीर पर लापरवाही के दुष्प्रभाव दिखाना शुरू हो जाते हैं। ऐसे में अचानक से बुढ़ापे का अहसास होने लगता है और कई शारीरिक समस्याएं घेर लेती हैं। इसके लिए यह बेहद जरूरी है कि इसी उम्र में महिलाएं अपने डायट का विशेष ख्याल रखना शुरू कर दे और डायट में कुछ महत्वपूर्ण बदलाव करें, साथ ही अपने डेली रूटीन को भी दुरुस्त करें।

आज हम 30 की उम्र में कदम रखने जा रही या 30 की हो चुकी महिलाओं के लिए उनके डाइट और डेली रूटीन से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण बदलावों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो उन्हें न सिर्फ शरीरिक रूप से स्वस्थ बनाने में मदद करते हैं, बल्कि मानसिक स्वास्थ के लिए भी फायदेमंद होते हैं।

(1) अपनी पसंदीदा वर्कआउट का चुनाव करें और अपने वजन को नियंत्रित रखें :
स्वस्थ रहने के लिए रनिंग, एक्सरसाइज, योग या फिर एरोबिक्स किया जाता है। लेकिन आपको अपनी पसंदीदा वर्कआउट का चयन करना होगा जो आपको फिट रखने में आपकी मदद करें। किसी भी ऐसे वर्कआउट का चयन ना करें जिसे आप लंबे समय तक जारी ना रख पाएं। यदि आप 30 की उम्र में पहुँच चुके हैं तो अपनी सुविधानुसार तुरंत कोई एक एक्सरसाइज शुरू कर दें, यह आपके वजन को नियंत्रित रखने में भी आपकी मदद करता है साथ ही आपकी सभी स्वास्थ्य समस्याओं का समाधान कर सकता है।

(2) कैल्शियम और आयरन की सही खुराक लें :
भारतीय महिलाओं में आयरन और कैल्शियम की कमी आमतौर पर पाई ही जाती है। इसलिए 30 की उम्र में आने पर एक बार इन दोनों का टेस्ट जरूर करा लें और अपने खानपान में ऐसी चीजें शामिल करें, जिनमें कैल्शियम और आयरन की मात्रा अधिक हो। कोशिश करें कि इन्हें प्राकृतिक स्रोतों से ही प्राप्त करें, लेकिन यदि डॉक्टर इनकी गोलियां लेने को कहें तो इनसे भी परहेज न करें।

(3) पोषक तत्वों वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करें तथा नियमित रूप से हेल्थ चेकअप करवाएं :
जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है आपका शरीर कमजोर होना शुरू हो जाता है और आपके अंदर बहुत सी बीमारियां विकसित होने लगती है। यही कारण है कि आपको जंक फूड्स के सेवन के बजाय पोषक तत्वों वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करना शुरू कर देना चाहिए और साथ ही नियमित रूप से अपने स्वस्थ की जांच भी करवाती रहनी चाहिए!

यदि आप उपरोक्त बातों को गंभीरता से लेती हैं और इन पर अमल करती हैं तो आप हमेशा स्वस्थ रह सकती हैं ! हम आपके सुखद और स्वस्थ जीवन की कामना करते हैं तथा उम्मीद करते हैं की हमारा ये आर्टिकल आपको अवश्य पसंद आया होगा ! यदि आप हमे कोई सुझाव देना चाहती हैं या आपके मन में कोई प्रश्न है तो आप कमेंट बॉक्स के माध्यम से हमसे जुड़ सकती हैं ! धन्यवाद् !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here