रोबोटिक्स क्या है तथा रोबोटिक्स के क्षेत्र में अपना करियर कैसे बनाएं ?

0
466
What is Robotics and How to build career in this sector?
Career in Robotics

आजकल आये दिन मीडिया में अलग अलग तरह के रोबोट्स से सम्बंधित खबरें होती हैं, ऐसे में सभी के मन में इसके बारे में जानने की जिज्ञासा होती है ! अगर आप भी रोबोटिक्स, रोबोट्स और इस क्षेत्र में करियर की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आज हम यहाँ इस आर्टिकल में आपको विस्तार से इस बारे में बताएँगे ! तो आइये जानते हैं की, रोबोटिक्स क्या है तथा रोबोटिक्स के क्षेत्र में अपना करियर कैसे बनाएं?

दरअसल रोबोटिक्स इंजीनियरिंग की वह शाखा है जिसके अन्तर्गत रोबोट की डिजाइनिंग, उनका अनुरक्षण, नए एप्लिकेशन का विकास और अनुसंधान इत्यादि जैसे काम सम्मिलित किए जाते हैं। Robotics में Manipulation तथा Processing के लिए कंप्यूटर का उपयोग किया जाता है। रोबोटिक्स इंजीनियरिंग शाखा में बेसिक इंजीनियरिंग के सिद्धांत तथा रोबोट्स का विकास तथा उपयोग करने के लिए तकनीकी दक्षता सिखाई जाती है। इसमें डिजाइन इंस्ट्रक्शन, ऑपरेशन टेस्टिंग, सिस्टम मेंटेनेंस तथा रिपेयरिंग इत्यादि कार्य शामिल हैं। इसके साथ रोबोटिक्स इंजीनियरिंग के अंतर्गत आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का भी अध्ययन किया जाता है।

जैसा की हम सब जानते है कि रोबोट एक ऐसी स्व नियंत्रित (Self-Controlled) रि-प्रोग्रामेबल (Re-Programmable) बहुउद्देशीय (Multi Purpose) मशीन होती है, जिसे लोकोमोशन सहित या उसके बिना इंडस्ट्रियल ऑटोमेशन एप्लिकेशन के लिए या विभिन्न कामों के लिए सामान्यतः प्रयोग में लाया जाता है। वर्तमान में विभिन्न क्रियाकलापों में रोबोट्स का उपयोग निरंतर बढ़ता ही जा रहा है तथा आने वाले समय में इस क्षेत्र में रोजगार के बहुत उजले अवसर विद्यमान हैं।

तकनिक एवं कार्यक्षेत्र के आधार पर रोबोटिक्स को सामान्यतः चार वर्गों में बांटा जा सकता है। ये हैं- औद्योगिक रोबोट, पर्सनल रोबोट, मेडिकल उपयोग के लिए रोबोट तथा ऑटोनोमस रोबोट। इनमें सबसे बड़ी श्रेणी औद्योगिक रोबोट्स की होती है, जो साधारण प्रोग्राम योग्य रोबोट होते हैं, जिनका इस्तेमाल मैन्युफैक्चरिंग संयंत्रों में होता है। आजकल इंडस्ट्रीज में रोबोट्स का उपयोग निर्माण प्रक्रिया को तेज करने के लिए किया जाता है। औद्योगिक रोबोट्स द्वारा वेल्डिंग, पेंटिंग तथा मशीनों में कलपुर्जे लगाने का काम किया जाता है। रोबोट्स असेंबलिंग, कटिंग तथा ऑटोमोबाइल्स के विभिन्न पार्ट्स को लगाने का काम भी बड़ी कुशलता एवं दक्षता से करते हैं।

एटॉमिक, थर्मल तथा न्यूक्लियर पावर स्टेशनों पर खतरनाक एवं जोखिम वाले उपकरणों के मेंटेनेंस में भी इंसानों के बजाय रोबोट्स का प्रयोग बढ़ा है। दुनिया के कई देशों में अब मिलिट्री ऑपरेशंस में भी रोबोट दिखाई देने लगे हैं। इन्हें न्यूक्लियर साइंस, सी-एक्सप्लोरेशन, इलेक्ट्रिकल सिग्नल्स की ट्रांसमिशन सर्विस, बायोमेडिकल इक्विपमेंट की डिजाइनिंग आदि के लिए भी उपयोग में लाया जाता है। आजकर रोबोट शल्य चिकित्सा करते हैं, बारूदी सुरंगें हटाते हैं तथा बम निष्क्रिय करते हैं। जिस तरह दिन-प्रतिदिन रोबोट्स की मांग बढ़ती जा रही है, उसे देखते हुए रोबोटिक्स एक शानदार एवं चमकदार करियर बनता जा रहा है।

रोबोटिक्स के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए या रोबोट तकनीक के अध्ययन के लिए इंजीनियरिंग की डिग्री आवश्यक है। इस क्षेत्र में इलेक्ट्रॉनिक्स, मैकेनिक्स तथा कंप्यूटर साइंस जैसे सहयोगी क्षेत्रों का ज्ञान शामिल होता है। इसलिए इस क्षेत्र में करियर बनाने वालों को इन क्षेत्रों से संबंधित तकनीकों से भी अवगत होना चाहिए। यदि आप रोबोटिक्स में डिजाइनिंग तथा कंट्रोल में विशेषज्ञता प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिग्री हासिल करनी होगी। कंट्रोल तथा हार्डवेयर में डिजाइनिंग के लिए इलेक्ट्रिकल या इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग में बीटेक डिग्री लाभदायक होती है। रोबोटिक्स में करियर बनाने की इच्छा रखने वाले छात्र गणित में बहुत अच्छे होने चाहिए।

साथ ही रोबोटिक्स के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए 12वीं कक्षा में भौतिक शास्त्र (Physics) एवं गणित (Mathematics) विषय का होना आवश्यक है। इसके साथ ही साथ उच्चतम प्रतियोगी तथा तकनीकी क्षेत्र में आविष्कार तथा कुछ नया करने के लिए आपके अंदर सृजनात्मक योग्यता भी बेहद जरूरी है। अतः यदि आप रोबोटिक्स के क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको यह करना होगा कि आप कंप्यूटर, आईटी, मेकेनिकल, मेकेट्रॉनिक्स, इलेक्ट्रॉनिक्स अथवा इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बीई या बीटेक की डिग्री प्राप्त करें। यदि आप उच्च अध्ययन करते हैं तो इस क्षेत्र में आपके प्रवेश की संभावना और अवसर दोनों ही बढ़ जाएंगे। रोबोटिक्स में कोर्स करने वाले छात्र इसरो जैसे अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन में भी रोजगार के विशिष्ट अवसर प्राप्त कर सकते हैं। इसके साथ ही रोबोटिक्स इंजीनियरों की माइक्रोचिप बनाने वाले उद्योगों में भी आजकल बहुत ज्यादा डिमांड है।

हमे उम्मीद हैं की रोबोटिक्स पर आधारित हमारा ये संकलन आपको बेहद पसंद आया होगा ! यदि आप हमे कोई सुझाव/कमेंट देना चाहते हैं अथवा हमसे कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं तो आप कमेंट बॉक्स का उपयोग कर सकते हैं !

SHARE
Previous article2018 के दस बेहतरीन डिवाइस एवं गैजट्स की जानकारी !
Next articleक्या आपका बच्चा भी दूध पीते ही उलटी कर देता है ? जाने कारण और निदान !
नमस्कार...!! इस खूबसूरत संकलन को आपलोगों के समक्ष ज्ञानवाटिका संपादन टीम के द्वारा प्रस्तुत किया गया है, जिसके प्रधान सम्पादक और एडमिन विकास कुमार तिवारी जी हैं. इस खूबसूरत संग्रह को बनाने और आपके समक्ष लाने में कई दिन और कई रातों का सतत प्रयास शामिल है, और हम आगे भी इसी निष्ठा से आपके समक्ष महत्वपूर्ण तथा अनमोल जानकारियों को संकलित कर प्रस्तुत करने के लिए प्रतिबद्ध हैं...! इसके साथ ही हम इस बात के लिए भी आशान्वीत हैं की आप सभी अपना महत्वपूर्ण सुझाव देकर, इस खूबसूरत संकलन को और खूबसूरत बनाने में हमारी मदद अवश्य करेंगे !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here