क्या आपका बच्चा भी दूध पीते ही उलटी कर देता है ? जाने कारण और निदान !

0
277
Vomiting in children and babies

अक्सर ऐसा देखा जाता है की नवजात या छोटे बच्चे अक्सर दूध पीने के बाद उलटी कर देते हैं जिसे देख कर माता पिता परेशान हो जाते हैं। ऐसे में यदि आप भी इस समस्या से परेशान है, और आपका बच्चा भी दूध पीते ही उलटी कर देता है? तो इस आर्टिकल में हम आपको इसके कारण और निदान, दोनों बताने जा रहे हैं ! हम उम्मीद करते हैं की इसे पढ़ने के बाद आपकी परेशानी दूर हो जायेगी !

नवजात या छोटे बच्चे अक्सर दूध पीने के बाद उलटी कर देते हैं, हालांकि विशेषज्ञों का मानना है कि यह बहुत ही साधारण सी बात है बच्चे अक्सर ज्यादा दूध पी लेने या खाना खाने के बाद उलटी कर देते हैं। इससे उन्हें किसी भी तरह की कोई भी परेशानी नहीं होती है जैसे पर्याप्त पोषक तत्वों का ना मिलना या पेट ख़राब होना। कई लोग तो यह भी कहते हैं, कि अगर आपका बच्चा उलटी कर देता है तो वह स्वस्थ है, यदि खाना या दूध पीने के बाद उसे डकार आने के बाद भी उलटी नहीं होती है तो यह परेशानी का सबब है और तुरंत चाइल्ड स्पेशलिस्ट से मिले। लेकिन हम यहाँ इन तथ्यों की पुष्टि नहीं करते हैं, और निचे हम कुछ वजह बता रहे हैं, जो बच्चों के दूध पिने के बाद उलटी करने का कारण बनती हैं !

(1) मसल्स रिंग में दूध का जाना : दूध पीने के दौरान दूध बच्चे की मस्कुलर ट्यूब से होते हुए उसके पेट में जाता है। इस मस्कुलर ट्यूब को इसोफेगस कहते हैं। इसोफेगस और पेट को जोड़ने के लिए एक मसल्स रिंग होती है जो बच्चे के दूध पीने पर खुल जाती है। दूध पीना बंद करने करे बाद ये रिंग बंद हो जाती है। ऐसे में रिंग आगर सही है और ज्यादा टाइट नहीं है तो सारा दूध इसोफेगस में वापस चला जाता है। दूध के रिंग में वापस जाने के कारण ही उल्टी होती है।

(2) गैस की समस्या : छोटे बच्चे में गैस की समस्या बहुत आम है, खासकर जब शिशु माँ के दूध पर निर्भर हों। क्योंकि, माँ जाने-अनजाने में वैसे चीजों का सेवन कर लेती हैं जो शिशु के पेट में गैस के साथ-साथ दर्द के कारण को भी उत्पन्न कर देता है। जो शिशु में उल्टी की समस्या को उत्पन्न करता है।

(3) पेट पर दवाब : कभी-कभी नवजात बच्चों में दूध की उल्टियां करने का एक कारण उसके पेट पर अतिरिक्त दवाब का पड़ना भी होता है। क्योंकि, कभी-कभार अनजाने में शिशु का पेट सोते या गोद में लेते समय दब जाता है, जिससे कि वो उल्टियां कर देते हैं।

(4) जरूरत से ज्यादा दूध पी लेना : ज्यादातर बच्चों में उल्टी का कारण जरूरत से ज्यादा दूध पी लेना माना जाता है। क्योंकि, शिशु को अपने पेट का अंदाज नहीं होता है, कि उन्हें कितनी मात्रा में दूध पीना है। ऐसे में, आप अपने शिशु को थोड़ी-थोड़ी मात्रा में दिन में कई बार स्तनपान कराएं। जिससे कि शिशु को उल्टी करने से बचाया जा सके।

(5) खाँसी होने पर : नवजात में सर्दी जुकाम या तेज़ खांसी होने के कारण वह दूध की उल्टियां करना शुरू कर देते हैं। ऐसे में, अपने बच्चे को इस समस्या से बचा कर रखना ही एक बेहतर विकल्प है।

(6) मुंह में हांथ डालने से : अधिकतर शिशु मुंह में ऊँगली लिए रहते हैं, लाख मना करने के वाबजूद भी उनके मुंह में उँगलियाँ होती हैं। जिससे कि शिशु उल्टियां कर देते हैं। ऐसे में, अपने बच्चे को शुरू से ही इन आदतों को छुड़वाने की कोशिश करें।

तो ये उपरोक्त कुछ कारण हैं जिनकी वजह से नवजात या बच्चे उल्टियाँ कर देते हैं, अब आइये जानते हैं इसके निदान के बारे में !

हालांकि बच्चों को दूध पिलाने या खाना खिलाने के बाद होने वाली उल्टियाँ को पूरी तरह से रोका नहीं जा सकता, क्योंकि कई बार ये बहुत ही सामान्य भी होता है। लेकिन इन्हें कम जरूर किया जा सकता है। बच्चे को आप जब भी दूध पिलाएं तो उसे अपने काँधे पर पेट के बल सटा कर बच्चे को थपकियाँ जरूर दें, ऐसा करने से बच्चे का दूध पच जाता है और वह उल्टियां नहीं करता है। हलाकि, दूध पिने के बाद डकार या थोड़ी उल्टी हो जाने से बच्चे कि छाती हल्की हो जाती है, जिससे बच्चे को नींद अच्छी आती है। लेकिन अगर ज्यादा उलटी होती है तो इसपर आपको जरूर ध्यान देना चाहिए, इसके लिए आप किसी चाइल्ड स्पेशिलिस्ट से भी संपर्क कर सकती हैं !

हम उम्मीद करते हैं की आपको हमारा ये संकलन पसंद आया होगा ! और यदि आप हमे कोई सुझाव देना चाहते हैं अथवा हमसे कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से दे अथवा पूछ सकते हैं ! धन्यवाद् !!

SHARE
Previous articleवर्चुअल रियलिटी (VR) क्या है तथा यह कैसे काम करता है ?
Next articleमिलिए और जानिये संसार की पहली रोबोट सिटीजन ‘सोफ़िया’ के बारे में !
नमस्कार...!! इस खूबसूरत संकलन को आपलोगों के समक्ष ज्ञानवाटिका संपादन टीम के द्वारा प्रस्तुत किया गया है, जिसके प्रधान सम्पादक और एडमिन विकास कुमार तिवारी जी हैं. इस खूबसूरत संग्रह को बनाने और आपके समक्ष लाने में कई दिन और कई रातों का सतत प्रयास शामिल है, और हम आगे भी इसी निष्ठा से आपके समक्ष महत्वपूर्ण तथा अनमोल जानकारियों को संकलित कर प्रस्तुत करने के लिए प्रतिबद्ध हैं...! इसके साथ ही हम इस बात के लिए भी आशान्वीत हैं की आप सभी अपना महत्वपूर्ण सुझाव देकर, इस खूबसूरत संकलन को और खूबसूरत बनाने में हमारी मदद अवश्य करेंगे !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here